खगौल (धरमवीर) : सम्पूर्ण कल्याण विकास समिति,  सकविस की रविवार को चलनेवाला  साप्ताहिक नुक्कड़ नाट्य श्रृंखला की 292 वीं कड़ी में मनोज मिनिस्टर द्वारा लिखित एवं ज्ञानी प्रसाद द्वारा निर्देशित नुक्कड़ नाटक ” शौचालय गायब “की प्रस्तुति स्थानीय डाकबंगला बाजार परिसर, खगौल में की गई।whatsapp-image-2018-04-08-at-7-12-17-pm
नाटक मूल रूप से सरकार की ओर से गांव -देहात , पंचायतों में शौचालय निर्माण में हेराफेरी पर फोकस किया गया है।
नाटक के मध्यम से कलाकारों ने दिखाया की सरकार स्वच्छता को लेकर अधिक ही फिक्रमंद है।स्वच्छता अभियान के तहत सरकार हर संभव प्रयास कर रही है | पंचायत के हर घर में शौचालय निर्माण के लिए सरकार ने अनुदान राशि की भी घोषणा कर रखी है। आम आदमी शौचालय बनवाने के नाम किसी प्रकार से अनुदान राशि पाने की युगत में अवश्य दीखते हैं। लेकिन जब सरकार का अनुदान प्रप्त हो जाता है तो उस पैसे को शौचालय बनाने के बजे उस राशी का इस्तेमाल गाय-भैंस खरीदने में कर लेतें है और वह पुरानी तरिके पर ही खुले में शौच करते हैं जिसका खामियाजा उस व्यक्ति के परिवार के साथ समाज पर भी खतरनाक प्रभाव करता है | कलाकारों ने यह भी दिखाया की गलत काम के लिए निकाल गया शौचालय निर्माण का पैसा छोटे नेताओं के बिच बंदरबाट का तरिका बनकर  रह जाता है और शौचालय सिर्फ कागजो में रह जाता है | कलाकरों ने लोगो को सन्देश देने का प्रयास किया की सरकार लोगो की सुख सुबिधाओ  का ध्यान रखकर लोगो के लिए योजनाए बनाती है|

नाटक की माध्यम से लोगो को यह संदेशा दिया की गलत तरीके  से सरकारी योजना के  लूट का खुलासा एक ना एक दिन सरकार और मिडिया तक पहुच जाती है और पोल-खोल हो जाता है | इस नाटक के कलाकार  में अम्बिका प्रसाद सिन्हा,ज्ञानी प्रसाद, मनोज मिनिस्टर, सुरेश विश्वकर्मा,लक्ष्मण अकेला, कामेश्वर प्रसाद,चन्द्रदेव प्रसाद, देवानंद, ललित परिणामी और सूरज कुमार समेत सारे कलाकारों ने अपनी बेहतरीन प्रस्तुति से लोगो को  जागरूक कर दिया |

LEAVE A REPLY